डिसूजा चाँँल की कहानी - Horror Story


डिसूजा चाँँल की कहानी - Horror Story

 आज हम आपको भारत की आर्थिक राजधानी और बॉलीवुड नगरी मुंबई की ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे है जो भारत के दस प्रेतबादित स्थानों में पाचवे स्थान पर है औ इससे एक डरावनी दास्तान से जुडी है | अगर हम भगवान में विश्वास करते है तो हमे शैतान पर भी विश्वास करना पड़ेगा | आइये पढ़े डिसूजा चॉल की कहानी……… मुंबई के माहिम में कैनोसा प्राइमरी स्कूल के पास एक ऐसी चॉल है जहा परलौकिक शक्तियों को अनुभव किया गया है | यहा के निवासी इन रूहानी ताकतों के कब्जे में कई बार आ चुके है | इस चॉल के बारे में वहा के स्थानीय लोगो का मानना है कि आज से 25 वर्ष पहले इस चॉल में सुलोचना नाम की महिला रहने को आयी थी | वो एक दिन रात को कुए से पानी भर रही थी तभी फिसलन की वजह से उसका पैर फिसल गया जिससे वो महिला कुए में गिर गई | कुए में गिरने के कई देर तक वो मदद के लिए चिल्लाई लेकिन चॉल में रहने वाला कोई भी उसकी मदद के लिए नहीं आ सका और कुए में पानी में दम घुट जाने की वजह से उसकी मौत हो गयी | मौत की वजह बताया जाता है कि उस कुए के चारो और कोई दीवार नहीं थी | स्थानीय लोगो का कहना है कि इस घटना के बाद उस महिला की आत्मा इस कुए के इर्द गिर्द घुमती रहती है | जो कोई रात को उस कुए के नजदीक से गुजरता है तो उन्हें वो औरत दिखाई देती है लेकिन वो किसी को नुकसान नहीं पहुचाती है | राम साकेत बिल्डिंग के कंपाउंड के इस कुए को अब सील कर दिया गया है ताकि वो आत्मा किसी को नुकसान ना पहुचाये हालंकि वो किसी को परेशान नहीं करती है | यहा रहने वाला एक बुढा आदमी उस औरत को जानता था और उसका कहना है कि हर अमावस को उसकी आत्मा यहा जरुर आती और सुबह गायब हो जाती है | इस चॉल के मालिक जिनका नाम रिचर्ड है वो भी रोज़ इस कुए के पास फल फुल चढ़ा जाते है ताकि उस औरत की आत्मा शांत ही रहे 
डिसूजा चाँँल की कहानी - Horror Story डिसूजा चाँँल की कहानी - Horror Story Reviewed by Deepak kanojia on December 28, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.